15 जुलाई तक बन रहा है अशुभ योग, जानिये किन की बढ़ेगी मुसीबतें



ग्रहों के राजा सूर्य 21 जून यानि सूर्यग्रहण (Surya Grahan) से करीब 7 दिन पहले ही अपनी राशि में परिवर्तन ला चुके हैं। इस परिवर्तन के तहत सूर्य राशि बदलकर मिथुन में आ गये हैं।

जानकारों के अनुसार सूर्य के मिथुन राशि में आने से अशुभ योग बन गए हैं, दरअसल सूर्य के मिथुन राशि में आने से सूर्य और राहु की युति बनने के साथ ही शनि के साथ षडाष्टक योग बन रहा है।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार ग्रहों की ये अशुभ स्थिति अगले महीने 15 जुलाई तक रहेगी। जिसका असर सभी राशियों पर पड़ेगा, इन ग्रहों का प्रभाव से मिथुन, कर्क, कन्या, वृश्चिक, धनु और कुंभ राशि वालों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। वहीं मेष, वृष, सिंह, तुला, मकर और मीन राशि वाले लोग सितारों के अशुभ प्रभाव से बच जाएंगे।

बढ़ सकतीं हैं बीमारियां
सूर्य-शनि के बीच षडाष्टक योग बन जाने से देश के उत्तरी और दक्षिणी हिस्सों में बीमारियां बढ़ने की संभावना है। वहीं देश की किसी बड़ी हस्ती के निधन का योग भी बन रहा है। इसके साथ ही कुदरती कहर यानी बाढ़, भूकंप, चक्रवात या आगजनी की स्थिति बन सकती है।

इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बड़े देशों के बीच की तनाव बढ़ सकता है। देश की के जनता असंतुष्ट रहने के साथ ही पड़ोसी देशों के साथ विवाद हो सकता है। देश की जनता में रोग और आपसी विवाद के हालात बन सकते हैं। लोगों की सेहत को लेकर देश-विदेश में नई परेशानी सामने आ सकती है।

इन राशि वालों के लिए अच्छा समय
मेष, वृष, सिंह, तुला, मकर और मीन राशि वाले लोगों के लिए समय अच्छा रहेगा। जिसके तहत इन राशि वाले लोगों को जॉब और बिजनेस में तरक्की मिल सकती है। साथ ही प्रॉपर्टी और आर्थिक मामलों में फायदा मिल सकता है।

वहीं इसके अलावा सेहत के लिए समय अच्छा रहेगा। किस्मत का साथ मिल सकता है। पारिवारिक मामलों के लिए भी समय शुभ कहा जा सकता है। ऐसे में माना जा रहा है कि इन 6 राशि वालों पर मौजूदा अशुभ ग्रह स्थिति का प्रभाव नहीं पड़ेगा।

इन 6 राशियों के लिए अशुभ समय
अशुभ योगों के प्रभाव से मिथुन, कर्क, कन्या, वृश्चिक, धनु और कुंभ राशि वाले लोगों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। ऐसे में इन 6 राशि वाले जातकों को संभलकर रहना होगा। दरअसल इस समय काल में कामकाज में रुकावटें आने के साथ ही विवाद होने की आशंका है।

इसके अलावा धन हानि और सेहत संबंधी परेशानियां भी हो सकती हैं। इस दौरान नए काम की शुरुआत करने से बचने के अलावा कर्जा न लें, साथ ही कामकाज में लापरवाही और जल्दबाजी करने से भी बचना चाहिए।

Post a Comment

0 Comments