चार बच्चों की मां ने बिजली का करंट देकर पति काे मारा, वजह जान हैरान रह गई पुलिस



Ghaziabad के निवाड़ी थाना क्षेत्र में तीन बच्चों की मां काे पुलिस ने उसके प्रेमी संग गिरफ्तार किया है। महिला पर अवैध संबंधों का विराेध कर रहे पति की हत्या का आराेप है।

गाजियाबाद। निवाड़ी थाना क्षेत्र में पति-पत्नी के पवित्र रिश्ते की हत्या कर दिए जाने की घटना सामने आई है। यहां एक महिला ने अपने कथित प्रेमी के संग मिलकर पति की फिल्मी अंदाज में हत्या कर दी और शव काे ठिकाने लगा दिया। वारदात काे अंजाम देते वक्त दाेनाें एक बड़ी गलती कर बैठे, जिसके आधार पर पुलिस ने हत्याराेपी पत्नी और उसके कथित प्रेमी काे गिरफ्तार किया है।

घटना गाजियाबाद के थाना निवाड़ी क्षेत्र के गांव मकरमतपुर सिखेड़ा गांव की है। 17 जून को इसी गांव के रहने वाले 45 वर्षीय नरेश की रहस्यमय परिस्थितियों में माैत हाे गई थी। इसका शव खेत में पड़ा मिला था। पति की माैत के बाद से पत्नी का राे-राेकर बुरा हाल था। पुलिस ने इस हत्याकांड का जो खुलासा किया उसने सभी काे हैरान कर दिया। पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है कि पत्नी ने ही अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति नरेश की हत्या कराई थी। बिजली का करंट देकर पति काे माैत के घाट उतार दिया था। पुलिस ने इस पूरे मामले में मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार करते हुए इस पूरे हत्याकांड का खुलासा कर दिया है।

ऐसे हुआ खुलासा

पुलिस को शुरुआती जांच में पता चला था कि नरेश का किसी से कोई झगड़ा या कोई दुश्मनी नहीं थी। नरेश के शरीर पर चोट के निशान भी पाए गए थे। इसके बाद पुलिस को भी कुछ शक हुआ और इस पूरे मामले की गुत्थी सुलझाने में पुलिस जुट गई। नरेश के 15 साल , 16 साल और 17 साल के तीन बेटे भी हैं। इस पूरे मामले का खुलासा करते हुए एसपी देहात नीरज कुमार जादौन ने बताया कि मृतक के परिजनों हत्या का शक जाहिर किया था।

पुलिस जांच में पता चला कि, नरेश की पत्नी सोनिया के पड़ोस में ही रहने वाले एक युवक जोनी के साथ प्रेम संबंध थे। इसकी जानकारी नरेश को हो चुकी थी। जिसका उसने विरोध किया था और नरेश उन दोनों के बीच का कांटा बना हुआ था। दोनों ने ही योजना तैयार की और उसे खेत पर बिजली का करंट लगाकर माैत के घाट उतार दिया।

बकाैल पुलिस पूछताछ में पत्नी ने बताया कि, बिजली करंट लगाकर हत्या करने के पीछे यह तर्क था कि किसी काे यह ना लगे कि नरेश की हत्या की गई है। पुलिस के अऩुसार दाेनाें ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। इसी आधार प दाेनाें काे न्यायालय के समक्ष पेश किया गया जहां से इन्हे जेल भेज दिया गया है।

Post a Comment

0 Comments