कराची हमले के पीछे भारत का हाथ, इसमें कोई शक नहीं: इमरान खान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने आरोप लगाया है कि कराची स्टॉक एक्सचेंज में हुए आतंकी हमले के पीछे भारत का हाथ था। खान ने कहा है कि भारत पाकिस्तान को अस्थिर करने की कोशिश कर रहा है।

navbharat-times

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान का संसद में बयान


कराची हमले के लिए भारत को ठहराया जिम्मेदार


दो महीने से थी जानकारी, अलर्ट पर थीं एजेंसियां


भारत पर आरोप, पाकिस्तान को अस्थिर करने की कोशिश


इस्लामाबाद
खुद अपनी सरजमीं पर आतंकियों को पनाह देने वाले पाकिस्तान ने कराची के स्टॉक एक्सचेंज में सोमवार को हुए हमले के पीछे भारत का हाथ बताया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को देश की संसद में भारत पर उसे अस्थिर करने का आरोप लगाया है। एक दिन पहले सोमवार को कराची में हुए हमले में करीब 11 लोगों की मौत हो गई थी और देश के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के बयानों को भारत ने बेतुका बताया था।
'पाकिस्तान को अस्थिर करना चाहता है भारत'
इमरान ने संसद में कहा है, 'बड़ी प्लानिंग से हिंदुस्तान ने पाकिस्तान की अस्थिर करने का प्लान बनाया था। वे बहुत सारा असलहा लेकर आए थे, इनका सिर्फ एक एम था स्टॉक एक्सचेंज में हॉस्टेज करके, मुंबई में की तरह बहुत बड़ी दहशतगर्दी हुई थी।' इमरान ने कहा कि इसमें कोई शक नहीं है कि हमले के पीछे भारत है। उन्होंने कहा, 'दो महीने से मेरे कैबिनेट को पता था, मैंने अपने मंत्रियों से कहा था। हमारी एजेंसियां हाई अलर्ट पर थीं।'

पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने भी लगाया था आरोप
इससे पहले कुरैशी ने स्थानीय मीडिया से कहा था कि उन्होंने पहले ही इस बात की चेतावनी दी थी कि भारत पाकिस्तान में अपने 'स्लीपर सेल' ऐक्टिवेट कर रहा है। कुरैशी ने आरोप लगाया कि हमले की जिम्मेदारी लेने की बात करने वाली बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी (BLA) का संबंध भारत से है। उन्होंने करतारपुर कॉरिडोर को खोले जाने का जिक्र करते हुए कहा कि पाकिस्तान शांति की बात करता है और भारत का जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन का सच दुनिया के सामने आ रहा है।

Post a Comment

0 Comments