कोरोना अपडेट: महाराष्ट्र और दिल्ली में लगतार बढ़ रहे कोरोना के मरीज, आप भी जानिए कुल आकडे



इस संबंध में एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटों में पुणे शहर में कोविड-19 के 620 नए मामले सामने आए, जिससे संक्रमित लोगों की संख्या 12,474 हो गई. उन्होंने बताया कि संक्रमण के कारण छह और लोगों की जान जाने से मौत का आंकड़ा बढ़कर 510 तक पहुंच गया है. दिन में अस्पतालों से कुल 171 रोगियों को छुट्टी दी गई.


राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के मामलों में तेजी से हो रही बढ़ोतरी के बीच संभावना है कि आज होने वाली दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की महत्वपूर्ण बैठक में भी यह मामला उठेगा. यह लगातार तीसरा दिन है जब दिल्ली में तीन हजार या उससे ज्यादा कोविड-19 के नए मामले सामने आ रहे हैं। शनिवार को एक दिन में सबसे ज्यादा 3,630 नए मामले सामने आए थे, वहीं शुक्रवार को 3,137 नए मामले आए.




महाराष्ट्र में रविवार को कोविड-19 के 3,870 नए मामले सामने आए, जिससे राज्य में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 1,32,075 तक पहुंच गई. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि राज्य में संक्रमण के कारण 101 मौतें होने से मृतकों की संख्या 6,170 हो गई. अधिकारी ने बताया कि दिनभर में कुल 1,591 मरीजों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई और इसके साथ ही ठीक हुए लोगों की संख्या 65,744 हो गई है. राज्य में अब 60,147 मरीजों का इलाज चल रहा है.


दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण से 63 लोग की मौत हुई है. संक्रमण से अभी तक कुल 2,175 लोग की मौत हुई है जबकि अभी तक कुल 59,746 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन की हालत में पहले से सुधार है, उनका बुखार भी कम हो गया है। उन्हें एक दिन पहले ही नपिजी अस्पताल में प्लाज्मा चढ़ाया गया है.


राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या करीब 60 हजार होने के बाद सरकार शहर में कंटेनमेंट जोन की रणनीति को मजबूत बनाने में जुट गई है ताकि संक्रमण को बड़े इलाके में फैलने से रोका जा सके. गौरतलब है कि शहर में पिछले 24 घंटे में और 3,000 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई. अधिकारियों ने बताया कि शहर में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण से 2,175 लोग की मौत हुई है.


केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, दिल्ली के एलजी अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ वर्चुअल बैठक की जिसमें इस मुद्दे पर वी.के. पॉल समिति की रिपोर्ट प्रस्तुत की गई. शाह द्वारा गठित उच्चस्तरीय समिति ने सुझाव दिया है कि दिल्ली में सभी कंटेनमेंट जोन को फिर से बनाया जाए ताकि कोविड-19 का बेहतर प्रबंधन, संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों का जल्दी पता लगाया जा सके.


Post a Comment

0 Comments