भरतपुर वसूली केस: दबंग आइपीएस दिनेश एमएन पूछताछ करने पहुंचे धौलपुर, कई पुलिस वाले गए छुट्टी पर



डीआइजी के नाम पर बंधी वसूलने का मामला, कोर्ट ने दलाल प्रमोद को पांच दिन के रिमांड पर सौंपा, आइपीएस दिनेश एमएन पूछताछ करने पहुंचे करौली—धौलपुर, कई पुलिस वालों के अवकाश पर चले जाना चर्चा का बना रहा विषय

 जयपुर। भरतपुर रेंज डीआइजी के नाम से पांच लाख रुपए वसूलने के मामले में एसीबी के एडीजी दिनेश एमएन खुद तस्दीक में जुटे हैं। एडीजी दिनेश एमएन रविवार को करौली और धौलपुर पहुंचे और आरोपी प्रमोद से बातचीत करने वाले पुलिस अफसर व थानेदारों से पूछताछ की। हालांकि सूत्र बताते हैं कि कई पुलिस वाले अवकाश पर चले गए। यह भी काफी चर्चा का विषय बना रहा।

रविवार को एडीजी एमएन ने करौली में कई थानोंदारों से पूछताछ की थी। इसके बाद रविवार शाम को धौलपुर पहुंचे। वहां पर सर्किट हाउस में पुलिस अधीक्षक से करीब एक घंटे तक भी चर्चा की। एसीबी सूत्रों के मुताबिक, आरोपी प्रमोद की कॉल डिटेल में कई पुलिस वालों से बातचीत सामने आई है। एडीजी दिनेश एमएन अब इन पुलिसकर्मियों की भूमिका की तस्दीक कर रहे हैं।

उधर, अनुसंधान अधिकारी पृथ्वीराज मीणा ने सोमवार को कोर्ट में दलाल प्रमोद शर्मा को प्रॉडक्शन वारंट पर गिरफ्तार करने की अर्जी लगाई। कोर्ट ने आरोपी प्रमोद को पांच दिन के रिमांड पर एसीबी को सौंपा है। अनुसंधान अधिकारी आरोपी से डीआइजी लक्ष्मण गौड़ से संपर्कों और वसूली में हिस्सेदारी के संबंध में पूछताछ करेंगे। हालांकि एसीबी अधिकारियों ने शुरुआती जांच में डीआइजी लक्ष्मण गौड़ की भूमिका के संबंध में अनुसंधान के बाद कहने की बात कही थी।

Post a Comment

0 Comments