अर्जुन को चक्रव्यूह का ज्ञान सीखाने वाले यहां के निशान देख




हाभारत की महाभारत सभी जानते होंगे आज की जनरेशन को छोड़ कर। सारी कथा के बारे और सारे किरदार के बारे में पता होगा आप लोगों को। वैसे तो महाभारत का युद्ध कुरुक्षेत्र में हुई थी। लेकिन भारत की कुछ ऐसी जगह भी हैं जहाँ युद्ध हुए हैं लेकिन आप ये जानकार सोचने पर मजबूर हो जायेंगे की यहाँ भी युद्ध हुआ था। जी है, ऐसी ही एक जगह है हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में।


इस जगह के बारे में कहा जाता है कि अर्जुन ने यहां पर चक्रव्यूह का ज्ञान लिया था। आपको बता दे कि हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले के सोलह सिंगी धार के नीचे बसा राजनौण गांव एक ऐतिहासिक स्थल के नाम से मशहूर है। कहा जाता है कि पांडव अज्ञात वास के यही रुके थे। यही रुक कर उन्होंने एक बावड़ी भी बनाई थी जो आज भी वहां पर मौजूद है।


अर्जुन ने जब यहाँ से चक्रव्यूह का ज्ञान लिया था तब वहां के पत्थर को उकेर दिया था जिसे आप आज भी देख सकते हैं। इसे अगर आप गौर से देखें तो इसमें अंदर जाने का रास्ता साफ साफ़ नज़र आ रहा है वहीँ बाहर आने का रास्ता नज़र नही आ रहा है। एक खण्डहर हो चुके महल के पास ये चक्रव्यूह मौजूद है जिसे पिपलु किले के नाम से जाना जाता है।


Post a Comment

0 Comments