बिहार में आकाशीय बिजली गिरने से 11 लोगों की मौत, CM नीतीश ने किया 4 लाख रुपये का मुआवजा देने का एलान

बिहार में एक बार फिर आसमान से आफत गिरी। आज राज्य के पांच जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से 11 लोगों की मौत हो गई। सबसे ज्यादा आज छपरा में 5 लोगों की मौत आकाशीय बिजली से हुई है। जबकि दो महिलाएं झुलस गई हैं।




बिहार के पांच जिलों में गिरी आकाशीय बिजली से 11 लोगों की मौत, 2 महिलाएं झुलसी।


सीएम नीतीश कुमार ने मृतकों के परिवारवालों को 4 लाख रुपये देने का एलान किया।


आज आकाशीय बिजली गिरने से पटना में 2, छपरा में 5, नवादा में 2, लखीसराय में 1 और जमुई में एक की मौत।


पटना
कोरोना वायरस के संक्रमण से जूझ रहे बिहार में मौसम भी कहर कहर बरपा रहा है। मंगलवार को बिहार में एक बार फिर आसमान से आफत बरसी है। बिहार में आज आकाशीय बिजली गिरने से 11 लोगों की मौत हो गई। आकाशीय बिजली राज्य के 5 जिलों में गिरी है, जिससे 11 लोगों की मौत हो गई। जबकि छपरा में आकाशीय बिजली गिरने से दो महिलाओं के झुलसने की भी खबर है।

मिली जानकारी के मुताबिक, आज आकाशीय बिजली गिरने से पटना में 2, छपरा में 5, नवादा में 2, लखीसराय में 1 और जमुई में एक की मौत हुई है। मृतकों के परिवारवालों को सीएम नीतीश कुमार ने चार लाख रुपये देने की घोषणा की है।

सैंपल कलेक्शन सेंटर से कुछ ही दूरी पर गिरी आकाशीय बिजली
छपरा के अलग-अलग इलाको में आकाशीय बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत हो गई। गरखा थाना क्षेत्र के महमदा गांव में आकाशीय बिजली गिरने के कारण एक महिला और एक किशोर समेत तीन व्यक्तियों की मौत दोपहर के समय हो गई। घटना उस समय हुई जब गांव में कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम और बचाव के लिए सैंपल कलेक्शन करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची थी। इसी बीच तेज बारिश के साथ आकाशीय बिजली चमकने लगी। सैंपल कलेक्शन सेंटर से कुछ ही दूरी पर आकाशीय बिजली गिरी, जिससे एक महिला समेत तीन लोगों की मौत हो गई। तीनों मृतक उसी गांव के एक ही परिवार के सदस्य हैं। इस घटना के बाद वहां भगदड़ की स्थिति उत्पन्न हो गई। मेडिकल टीम भी भाग खड़ी हुई, हालांकि इस घटना में मेडिकल टीम के किसी सदस्यों को नुकसान नहीं हुआ है।

इससे पहले 83 लोगों की मौत हो चुकी है

बता दें, इससे पहले हाल में ही बिहार में आकाशीय बिजली गिरने से 83 लोगों की मौत हो गई थी। जबकि कई लोग झुलस गए थे। तब राज्य के कुल 38 जिलों में से 23 जिलों में आकाशीय बिजली का कहर दिखा था। सबसे ज्यादा गोपालगंज में 13 लोगों की मौत हुई थी।

Post a Comment

0 Comments